NEFT, RTGS और IMPS में क्या अंतर है - Difference between NEFT and RTGS and IMPS in Hindi

आज हम आपको बताएँगे कि NEFT, RTGS और IMPS क्या होता है और इनमें क्या अंतर है। अगर आपको नेट बैंकिंग या मोबाइल बैंकिंग के जरिये ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर करना है तो आपके लिए एनईएफटी, आरटीजीएस और आईएमपीएस में से कौन सा ऑप्शन बेस्ट है?

difference between neft and rtgs and imps in hindi

Difference between NEFT and RTGS and IMPS in Hindi

इंटरनेट के इस दौर में हर कोई चाहता है कि बैंकिंग सम्बन्धी सभी काम घर बैठे ही हो जाएँ। पैसे ट्रांसफर करने से लेकर, बिल पेमेंट हो या ऑनलाइन शॉपिंग आदि कार्य अपने कंप्यूटर या मोबाइल के माध्यम से किया जा सकता है। इसके लिए आपको बैंक जाने की जरुरत नहीं पड़ती।

ऐसे में जब अपने दोस्तों या रिश्तेदारों को पैसे भेजना हो, या किसी प्रकार का भुगतान करना हो तो कौन चाहेगा कि बैंक जाकर लाइनों में लगे। इसके लिए हर कोई इंटरनेट बैंकिंग का तरीका अपनाना चाहता है। 

कई अलग-अलग भुगतान प्रणालियों ने एक बैंक खाते से दूसरे बैंक खाते में पैसे ट्रांसफर करने की सुविधा को और आसान बना दिया है। 

नये डिजिटल पेमेंट सिस्टम की मदद से, पैसा कहीं से भी किसी भी समय तत्काल भेजा और प्राप्त किया जा सकता है। भारत में ऑनलाइन पैसा ट्रांसफर करने के विभिन्न तरीके हैं जैसे डिजिटल वैलेट्स, UPI और बहुत कुछ।

हालांकि, सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला तरीका ऑनलाइन फंड ट्रांसफर है और इसके लिए कई भुगतान प्रणालियाँ चलन में हैं जिनमे मुख्य हैं - एनईएफटी, आरटीजीएस और आईएमपीएस।

तो चलिए जानते हैं NEFT, RTGS और IMPS क्या होता है?

NEFT Full Form, Service Charge and Limit


1. NEFT

National Electronic Funds Transfer
(राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक निधि अंतरण)

NEFT भारत के सबसे प्रमुख इलेक्ट्रॉनिक मनी ट्रांसफर सिस्टम में से एक है। इसके जरिये एक व्यक्ति के Account से दूसरे व्यक्ति के Account में पैसे भेजे जा सकते हैं। NEFT के माध्यम से भेजे गए पैसों को उसी समय ट्रांसफर नहीं किया जाता। इसमें भुगतान एक समय के बाद होता है यानी कि एक तय किये गए समय के बैच के अनुसार आपका पैसा ट्रान्सफर होता है।

NEFT की प्रक्रिया RTGS के मुकाबले धीमी है, इस प्रक्रिया में फंड ट्रांसफर करने के लिए लगने वाला सर्विस चार्ज भी काफी कम होता है। NEFT के जरिये पैसा ट्रांसफर करने के लिए आपको जिस किसी के अकाउंट में पैसे भेजने हैं, उसका नाम, बैंक अकाउंट नंबर, ब्रांच नाम व एड्रेस के साथ-साथ IFSC Code भी पता होना चाहिए। NEFT के जरिये ऑनलाइन इंटरनेट बैंकिंग के माध्यम से या अपनी बैंक की शाखा पर जाकर फंड ट्रांसफर कर सकते हैं।

NEFT में लगने वाला Service Charge 
  • 1 लाख की रकम के लिए - 5 Rs. + GST 
  • 1 लाख से ऊपर और 2 लाख से कम की रकम के लिए - 15 Rs. + GST 
  • 2 लाख रुपये से अधिक की रकम के लिए - 25 Rs. + GST 

दिए गए Service Charges में बदलाव भी हो सकता है, आप वर्तमान Service Charge अपने बैंक की शाखा से पता कर सकते हैं।

RTGS Full Form, Service Charge and Limit 


2. RTGS

Real Time Gross Settlement
(तत्काल सकल निपटान)

RTGS भी एक पेमेंट सिस्टम है। इस सिस्टम के जरिये फंड ट्रांसफर करने पर आपकी रकम को उसी समय ट्रांसफर कर दिया जाता है। इस फंड ट्रांसफर प्रणाली का उपयोग आम तौर पर बड़े Amount को Transfer करने के लिए किया जाता है। 

RTGS का Use आमतौर पर बड़ी बड़ी इंडस्ट्रीज, संस्थाएं इत्यादि करते हैं। RTGS के जरिये Minimum 2 लाख रुपये का ट्रांसफर करना जरूरी होता है जबकि NEFT के की बात करें तो इसमें ऐसी कोई Minimum या Maximum की Limit नहीं है। RTGS के जरिये पैसे तुरंत भेज दिए जाते हैं लेकिन उस दिन Bank का खुला होना जरूरी है।

RTGS में लगने वाला Service Charge 
  • 2 लाख रुपये से 5 लाख तक की रकम के लिए - 30 Rs. 
  • 5 लाख रुपये से अधिक की रकम के लिए - 55 Rs. 

IMPS Full Form, Service Charge and Limit


3. IMPS

Immediate Payment Service
(तत्काल भुगतान सेवा)

IMPS पैसे ट्रांसफर करने की बहुत ही तेज़ सर्विस है। इसके माध्यम से एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में कभी भी, किसी भी समय पैसे ट्रांसफर किये जा सकते हैं। इसमें मिनिमम रकम की कोई लिमिट नहीं है। इस सुविधा के जरिये 1 रुपये से लेकर 2 लाख तक की रकम को तत्काल ट्रांसफर किया जा सकता है। 

इस Service का लाभ Mobile Phone के माध्यम से भी उठाया जा सकता है। इस प्रणाली में आपको बैंक खुले होने का इंतजार नहीं करना है, IMPS का उपयोग Bank Holidays के दौरान भी पूरे साल 24x7 किया जा सकता है।

  • IMPS में लगने वाला शुल्क आपके बैंक और ट्रान्सफर किये गए रकम पर निर्भर करता है।

निष्कर्ष -

इस लेख में हमने आपको बताया है कि एनईएफटी, आरटीजीएस और आईएमपीएस क्या होता है - Difference between NEFT and RTGS and IMPS in Hindi. उम्मीद है आपको ये जानकारी पसंद आई होगी। अगर आप हमसे कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं। ब्लॉगिंग, टेक्नोलॉजी, सोशल मीडिया, बैंकिंग आदि से जुड़ी जानकारी पाने के लिए हमारे ब्लॉग Freeonlinetricks.Com पर विजिट जरूर करें।  

Post a Comment

Previous Post Next Post