कंप्यूटर क्या है? | Computer Introduction in Hindi

what is computer in hindi

What is computer in Hindi - टेक्नोलॉजी के इस दौर में Computer कोई नयी बात नहीं है, इसके बारे में लगभग हर कोई जानता है, आज हम आपको कंप्यूटर से सम्बंधित कुछ बेसिक व महत्वपूर्ण जानकारी देने जा रहे हैं

कंप्यूटर को लेकर कुछ लोगों के मन में कई तरह के सवाल होते हैं, जैसे- कंप्यूटर क्या है? कंप्यूटर किस प्रकार काम करता है? कंप्यूटर को हिंदी में क्या कहते हैं? क्या इसका फुल फॉर्म भी है? और है तो क्या है, कंप्यूटर को किसने बनाया है? Computer Ka Avishkar Kisne Kiyaक्या इस तरह के अनेकों सवाल के जवाब आप भी ढूंढ़ रहे हैं, तो ये आर्टिकल आपके लिए परफेक्ट है। 

    कंप्यूटर क्या है? 

    What is computer in Hindi?

    कंप्यूटर एक लैटिन शब्द “Computare” से लिया गया है जिसका अर्थ है "Calculation करना या गणना करना", "गिनना", "योग करना"। कंप्यूटर एक ऐसी इलेक्ट्रॉनिक मशीन है जो विभिन्न समस्याओं को हल कर सकती है, डेटा को प्रोसेस कर सकती है, डेटा को स्टोर और पुनः प्राप्त कर सकती है और मनुष्यों की तुलना में तेजी से और कुशलता से गणना (Calculation) कर सकती है। 

    Computer meaning in Hindi - कंप्यूटर को हिंदी में 'संगणक' कहते हैं, चार्ल्स बैबेज (Charles Babbage) को कंप्यूटर का "जनक" कहा जाता है। चार्ल्स बैबेज द्वारा डिजाइन किए गए पहले मैकेनिकल कंप्यूटर को Analytical Engine कहा जाता था। इसमें पंच कार्ड की मदद से डाटा को इन्सर्ट किया जाता था। 

    कंप्यूटर का फुल फॉर्म क्या है?

    Computer Ka Full Form
     
    मूल रूप से कंप्यूटर का कोई फुल फॉर्म नहीं है, जैसा की हमने पहले ही बता दिया है कि कंप्यूटर एक लैटिन शब्द “Computare” से लिया गया है जिसका अर्थ है "Calculation करना या गणना करना। लेकिन, कंप्यूटर का एक काल्पनिक फुल फॉर्म है। 

    C - Commonly 
    O - Operated 
    M - Machine 
    P - Particularly 
    U - Used for 
    T - Technical and 
    E - Educational 
    R - Research 

    Commonly Operated Machine Particularly Used for Technical and Educational Research 

    कम्प्युटर की परिभाषा

    Computer Definition in Hindi

    Computer एक इलेक्ट्रॉनिक मशीन है, यह Hardware एवं Software का एक Combination है, जो इनपुट उपकरणों की मदद से आँकडों को स्वीकार करता है उन्हें प्रोसेस करता है और उन आँकडों को आउटपुट उपकरणों की मदद से सूचना के रूप में प्रदान करता है। जिसका प्रयोग Calculation, Process, Mechanics, Research आदि में किया जाता है। 

    what is computer in hindi

    कम्प्युटर का परिचय

    Computer introduction in Hindi

    Computer एक ऐसी इलेक्ट्रॉनिक Machine है, जिसका उपयोग प्रत्येक क्षेत्रों में किया जाता है, दुनिया भर में लाखों लोग इसका इस्तेमाल करते हैं। Computer को अपना कार्य करने के लिए कई तरह के उपकरणों और प्रोग्राम की जरुरत पड़ती है। एक कंप्यूटर सिस्टम के दो मुख्य अंग होते हैं : हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर।

    हार्डवेयर क्या है?

    What is hardware in Hindi
      
    HARDWARE (हार्डवेयर) - कंप्यूटर सिस्टम से जुड़े उपकरणों को हार्डवेयर कहा जाता है। हार्डवेयर कम्प्यूटर के भौतिक भाग होते हैं जो एक कंप्यूटर सिस्टम का निर्माण करते हैं। अर्थात कंप्यूटर से जुड़े वो सभी पार्ट्स जिन्हें देख सकते हैं या छू सकते हैं उन्हे हार्डवेयर कहा जाता है। जैसे- मॉनिटर, माउस, कीबोर्ड, हार्ड ड्राइव डिस्क, सिस्टम यूनिट (ग्राफिक कार्ड, साउंड कार्ड, मेमोरी, मदरबोर्ड) आदि।

    इनपुट डिवाइस: Input Device कंप्यूटर हार्डवेयर उपकरण का एक टुकड़ा है जिसका उपयोग डेटा प्रदान करने के लिए किया जाता है। जिसके माध्यम से आप कंप्यूटर से कांटेक्ट या उसे कंट्रोल कर सकते हैं। जैसे- कीबोर्ड, माउस, स्कैनर, डिजिटल कैमरा, जॉयस्टिक, माइक्रोफोन, प्रिंटर इत्यादि एक इनपुट डिवाइस हैं

    कीबोर्ड: यह कंप्यूटर के साथ उपयोग किए जाने वाले मुख्य इनपुट डिवाइस में से एक है। कीबोर्ड जो बटन से बना होता है और इसके जरिये Letters, Numbers, और Symbols को टाइप किया जाता है। यह एक महत्वपूर्ण डिवाइस है, जो लिखने का काम तो करता ही है साथ ही कम्प्यूटर को नियंत्रित करने में भी अहम भूमिका निभाता है। 

    माउस: यह भी एक तरह का इनपुट डिवाइस है जो GUI (ग्राफिकल यूजर इंटरफेस) में एक कर्सर को नियंत्रित करता है और कंप्यूटर पर टेक्स्ट, आइकन्स, फाइल्स और फोल्डर को मूव और सेलेक्ट करता है। डेस्कटॉप कंप्यूटर के लिए, माउस को आपके कंप्यूटर के सामने एक सपाट सतह (माउस पैड या डेस्क) पर रखा जाता है। 

    स्कैनर: Scanner इमेज, डॉक्यूमेंट आदि (हार्ड कॉपी) को डिजिटल सिग्नल में परिवर्तित करता है। उदाहरण के लिए, एक स्कैनर का उपयोग एक प्रिंटेड इमेज, ड्राइंग या दस्तावेज़ को एक डिजिटल फ़ाइल में बदलने के लिए किया जाता है, जिसे कंप्यूटर पर एडिट भी किया जा सकता है। 

    डिजिटल कैमरा: Digital Camera भी एक हार्डवेयर डिवाइस है, जो तस्वीर लेता है और उसे डेटा के रूप में मेमोरी कार्ड में स्टोर करता है। कई डिजिटल कैमरे फोटो लेने के अलावा वीडियो रिकॉर्डिंग करने में भी सक्षम हैं। इस कैमरे के माध्यम से एक छोटे-से मेमोरी उपकरण में हज़ारों Pictures को स्टोर कर सकते हैं, कुछ Digital कैमरे की मदद से आप तस्वीरों को क्रॉप करके उनमें कुछ हद तक एडिटिंग भी कर सकते हैं। 

    जॉयस्टिक: Joystick कंप्यूटर प्रोग्राम में एक Character या मशीन को नियंत्रित करता है, इसका उपयोग अक्सर वीडियो गेम को Control करने के लिए किया जाता है। इसमें एक या एक से ज्यादा बटन होते हैं, जॉयस्टिक का इस्तेमाल Machines, जैसे- क्रेन, ट्रक, निगरानी कैमरों इत्यादि को कंट्रोल करने के लिए भी किया जाता है।  

    माइक्रोफोन: Microphone एक इनपुट डिवाइस है जिसे मूल रूप से 1877 में Emile Berliner द्वारा आविष्कार किया गया था। एक माइक्रोफोन कंप्यूटर उपयोगकर्ताओं को अपने कंप्यूटर में ऑडियो इनपुट करने की अनुमति देता है। 

    प्रिंटर: यह कंप्यूटर या अन्य डिवाइस पर मौजूद इलेक्ट्रॉनिक डेटा को लेता है और इसकी एक हार्ड कॉपी तैयार करता है। उदाहरण के लिए, यदि आपने अपने कंप्यूटर पर एक रिपोर्ट बनाई है, तो आप इसकी कई प्रतियां प्रिंटर के जरिये छाप सकते हैं। प्रिंटर सबसे लोकप्रिय कंप्यूटर बाह्य उपकरणों में से एक है और आमतौर पर इसका उपयोग टेक्स्ट डॉक्यूमेंट या फोटो प्रिंट करने के लिए किया जाता है। 

    CPU KYA HAI 

    Central Processing Unit (CPU)
     
    सीपीयू COMPUTER का दिमाग है, COMPUTING POWER की बात करें तो सीपीयू कंप्यूटर सिस्टम का सबसे महत्वपूर्ण अंग है। CPU का फुल फॉर्म Central Processing Unit है। सीपीयू कंप्यूटर पर चलने वाले हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर से प्राप्त सभी INSTRUCTIONS को संभालता है। सभी काम जो हम अपने कंप्यूटर पर करते हैं उसे CPU द्वारा प्रोसेस किया जाता है। यह CPU की क्षमता पर निर्भर करता है क़ि वह कितनी जल्दी और किस हिसाब से INSTRUCTIONS को प्रोसेस करेगा। 

    सॉफ्टवेयर क्या है?

    What is software in Hindi?
      
    सॉफ्टवेयर निर्देशों का एक सेट है जो हार्डवेयर को बताता है कि क्या करना है। इसको सिर्फ देख सकते हैं और इस पर काम कर सकते हैं, सॉफ्टवेयर को अलग-अलग काम के हिसाब से प्रोग्रामर के द्वारा तैयार किया जाता है। जो हमारे काम को आसान बनाता है। 

    सॉफ्टवेयर के बिना कंप्यूटर के हार्डवेयर किसी काम के नहीं हैं। उदाहरण के लिए, सॉफ़्टवेयर के बिना आप इंटरनेट पर ब्राउज़ नहीं कर सकते हैं या इस पृष्ठ को नहीं पढ़ सकते हैं। ऑपरेटिंग सिस्टम के बिना, ब्राउज़र आपके कंप्यूटर पर नहीं चल सकता है। 

    सॉफ्टवेयर के प्रकार

    Types of software in Hindi

    हम विभिन्न उद्देश्यों के लिए COMPUTER का उपयोग करते हैं और हमारी REQUIRMENT के हिसाब से अलग अलग PURPOSE के लिए अलग-अलग सॉफ्टवेयर बनाए जाते हैं। अध्ययन की सुविधा के लिए सॉफ्टवेयर को तीन CATEGORY में बांटा गया है। 

    1. System Software 
    2. Application Software 
    3. Utility Software 

    1. System Software : System Software एक प्रकार का कंप्यूटर प्रोग्राम है जिसे कंप्यूटर के हार्डवेयर और एप्लिकेशन प्रोग्राम को चलाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। System Software का काम Computer को चलाना और System को काम करने लायक बनाए रखना है। System Software ही Hardware में जान डालता है। Operating Systems, Compilers आदि System Software के प्रमुख Part हैं। 

    2. Application Software : Application Software अलग अलग जरूरतों के हिसाब से प्रत्येक कार्यों के लिए बनाये जाते हैं अथवा Application Software वो प्रोग्राम हैं जो हमारे कंप्यूटर पर आधारित प्रमुख कामों को करने के लिए लिखे जाते हैं। इन्हे 'Apps' भी कहा जाता है। Application Software के कुछ उदाहरण : 

    • Word processing software 
    • Database programs 
    • Entertainment software 
    • Business software 
    • Educational software 
    • Spreadsheet software etc. 

    3. Utility Software : Utility Software को Service Program के नाम से भी जाना जाता है। Utility Software एक ऐसा प्रोग्राम है, जो SYSTEM के रखरखाव व सुरक्षा में मदद करते हैं। Utility Software उपयोगकर्ता को DISK FORMATTING, DATA COMPRESSION, DATA BACKUP, VIRUS के लिए स्कैनिंग आदि में भी मदद करते हैं। 

    • Antivirus 
    • Backup software 
    • Clipboard 
    • Compression utility 
    • Registry cleaners 
    • Screen saver 
    • System monitor 
    • Debuggers 
    • DirectX 
    • Disk checkers 

    कम्प्युटर के विभिन्न प्रकार 

    Types of computer in Hindi
     
    कंप्यूटर उनकी डेटा प्रोसेसिंग क्षमताओं के आधार पर भिन्न होते हैं। उन्हें उद्देश्य, डेटा हैंडलिंग और कार्यक्षमता के अनुसार वर्गीकृत किया गया है। 

    एनालॉग कंप्यूटर

    Analog Computer एक ऐसी मशीन है जो भौतिक मात्राओं (Physical Quantities) जैसे- Pressure, Temperature, Length, Height आदि को मापकर उनके परिमाप अंको में व्यक्त करते हैं, ये Computer किसी राशि का परिमाप तुलना के आधार पर करते है जैसे- थर्मामीटर एक Analog Computer हैं। एनालॉग कंप्यूटर उन स्थितियों के लिए उत्कृष्ट हैं जिनके लिए अंकों या कोड में कनवर्ट किए बिना डेटा को सीधे मापा जाना चाहिए। Analog Computer का उपयोग मुख्य रूप से तकनीक, विज्ञान, शिक्षा आदि क्षेत्रों में किया जाता है। 

    पर्सनल कंप्यूटर

    Personal Computer घर, ऑफिस इत्यादी जगहों पर उपयोग करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इसे हम PC भी कहते हैं , पर्सनल कंप्यूटर छोटा और कम लागत वाला होता है। पर्सनल कंप्यूटर एक multi-purpose कंप्यूटर है जिसका आकार, क्षमताएं और कीमत personal use के लिए इसे आसान बनाते हैं। 

    वर्कस्टेशन

    Workstation तकनीकी या वैज्ञानिक अनुप्रयोगों के लिए बनाया गया एक विशेष कंप्यूटर है। आमतौर पर एक ऐसा कम्प्युटर जो किसी Network से Connect होता है उसे ही Workstation कहते है। 

    मिनीकंप्यूटर

    Minicomputerएक ऐसा कंप्यूटर है, जिसमें एक बड़े कंप्यूटर की अधिकांश विशेषताएं और क्षमताएं होती हैं, लेकिन भौतिक आकार में छोटा होता है। इनका इस्तेमाल छोटे Business व commercial प्रतिष्ठानों द्वारा किया जाता है। 

    मेनफ्रेम कम्प्यूटर

    Mainframe Computers उन कम्प्यूटरों को कहते हैं जिनका उपयोग बड़ी बड़ी संस्थाओं में भारी-मात्रा में आंकड़ा संस्करण के लिए किया जाता है। इनका Size भी बड़ा होता है और लगभग सभी नजरिये से इनकी Capacity अन्य कम्प्यूटरों (मिनी, सर्वर, वर्कस्टेशन और पीसी) के मुकाबले बहुत ज्यादा होती है। 

    सुपर कंप्यूटर

    महासंगणक (Super Computer) उन कम्प्यूटर्स को कहा जाता है जो Present Time में Computation Power और कुछ दूसरे मामलों में सबसे आगे होते हैं। अत्याधुनिक तकनीकों से लैस Super Computer बहुत बड़े-बड़े Calculations और Micro-calculations तेजी से कर सकता है। इसमें कई microprocessors एक साथ काम करते हुए किसी भी जटिलतम समस्या (Complex problem) का तुरंत हल निकाल लेते हैं। 

    आज के समय में उपलब्ध कंप्यूटरों में Super Computer सबसे Fast Capacity, Efficiency (दक्षता) और Highest Memory Capacity वाला कंप्यूटर है। आधुनिक परिभाषा के अनुसार, वे कंप्यूटर, जो 500 मेगाफ्लॉप की क्षमता से कार्य कर सकते हैं, Super Computer कहलाते हैं। Super Computer एक सेकंड में एक अरब गणनाएं कर सकता है। इसकी गति को megaflop से नापते हैं। 

    माइक्रो-कंप्यूटर

    Micro Computer एक ऐसा कंप्यूटर है जिसमें Micro-Processor इसके Central Processing Unit (CPU) के रूप में होता है। Mainframe और Minicomputers के Comparison में इनका Size छोटा होता है। कई Micro-Computer (जब Input और Output के लिए इसे एक Keyboard और Sreen से Attach किया जाता है) Personal Computer (PC) भी होते हैं।

    Post a Comment

    Previous Post Next Post